होम ताज़ा खबर सवर्ण आरक्षण को लेकर अमित शाह ने संसद में दिए इतने संकेत

सवर्ण आरक्षण को लेकर अमित शाह ने संसद में दिए इतने संकेत

 सवर्ण आरक्षण जिसको लेकर हर तरफ एक चर्चा चल रही थी। वो बिल अब दोनों सदनों में पास हो गया है।

amit shah

नई दिल्ली। सवर्ण आरक्षण जिसको लेकर हर तरफ एक चर्चा चल रही थी। वो बिल अब दोनों सदनों में पास हो गया है। जिसका सबसे ज्यादा फायदा सामान्य वर्ग और पिछडें वर्गों को मिलेगा। मंगलवार को लोकसभा में दो-तिहाई से ज्यादा बहुमत से पारित होने के बाद बुधवार को राज्यसभा में इस बिल पर लंबी चर्चा हुई और यहां से भी संविधान में 124वें संशोधन को हरि झंडी मिल गई है। जिससे आरक्षण का रास्ता पूरी तरह से साफ हो गया है।

इसे भी पढ़ें: नीतीश कुमार ने बिहार में हुए महागठबंधन को लेकर की ये बात

आपको बता दें कि, इससे पहले सपा के राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव ने इसको लेकर अपनी राय रखी थी। जिसका जवाब अमित शाह ने बहुत सोच समझकर दिया। उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि, मेरिट में कोई भी गरीब बच्चा आ सकता है। चाहे वो दलित हो या फिर आदिवासी। अमित शआह के इस तर्क पर रामगोपाल यादव ने कहा कि, ऐसे तो फिर संख्या और कम हो जाएगी। रामगोपाल यादव के इसी बिंदु पर अमित शाह ने कहा कि बढ़ाएंगे…बढ़ाएंगे….

इसे भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने किया ये बड़ा ऐलान

अमित शाह के इस बयान को रामगोपाल यादव ने मानो कैच कर लिया और तुरंत हंसते हुए अमित शाह से कहा कि जब जवाब दें तो बताइएगा कि दायरा बढ़ाएंगे।

इसे भी पढ़ें: अजय माकन ने दिया कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा!

शाह-रामगोपाल में हुई बहस

सदन में चर्चा के दौरान अमित शाह और रामगोपाल यादव के बीच बहस भी देखने को मिली. दरअसल, रामगोपाल यादव ने कहा कि जिन गरीबों को फायदा पहुंचाने की बात सरकार कर रही है, उन्हें इसका लाभ नहीं मिलेगा। उन्होंने इसके पीछे तर्क देते हुए कहा कि मेरिट का आंकड़ा आपने छोटा कर दिया और संख्या को बढ़ा दिया। इस पर अमित शाह ने जवाब दिया कि जब आप मुस्लिम आरक्षण की बात करते हैं तो क्या तब मेरिट की संख्या कम नहीं होती।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में कोहरे का कहर, ठंड बरकरार

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here