Home ट्रेंडिंग न्यूजकोविड -19 पीएम मोदी ने कौन सी लगवाई कोरोना वैक्‍सीन ?

पीएम मोदी ने कौन सी लगवाई कोरोना वैक्‍सीन ?

by Mahima Bhatnagar
Narendra modi

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी दिल्ली के AIIMS में कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज लगवाई। वैक्सीन लगवाने के साथ ही पीएम मोदी ने सभी लोगों से भारत को कोविड-19 मुक्त करने में योगदान देने की अपील भी किया।

इसे भी पढ़ें: सोशल मीडिया और ओटीटी रूल्स हुए चेंज

टीका लगाकर पीएम ने किया देशवासियों से यह आग्रह

प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, “मैंने एम्स में कोविड-19 वैक्सीन का पहला डोज ले लिया। कोविड-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने में हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने जितनी तेजी से काम किया, वह उल्लेखनीय है।” पीएम ने लोगों से वैक्सीन लेकर भारत को कोविड महामारी से मुक्त करने में सहयोग की गुहार लगाई। उन्होंने कहा, “मैं उन सभी से वैक्सीन लेने का आग्रह करता हूं जो इसके लिए योग्य हैं। आइए, हमसब मिलकर भारत को कोविड-19 मुक्त बना दें।”

इसे भी पढ़ें: किरण बेदी को पुदुच्चेरी के उपराज्यपाल के पद से हटाने के पीछे क्या है कारण?

आज से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू

देश में आज से कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हो रहा है। अब 60 साल से ज्यादा उम्र के लोग और अन्य बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोग वैक्सीन ले सकेंगे। सरकार ने इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं। खास बात यह है कि इस बार सरकारी के साथ-साथ निजी अस्पतालों में भी टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। निजी अस्पतालों में वैक्सीन के एक डोज की कीमत केंद्र सरकार ने अधिकतम 250 रुपये तय की है। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन पहले की तरह फ्री रहेगी।

इसे भी पढ़ें: कंगना रनौत ने रिहाना को लेकर कही ये बात, भड़के Netizens ने लगा दी उनकी ही क्लास

को-विन 2.0 के अलावा आरोग्य सेतु से भी होगा रजिस्ट्रेशन

नागरिक किसी भी समय और कहीं भी टीकाकरण के लिए पंजीकरण और बुकिंग को-विन2.0 पोर्टल का उपयोग करके या आरोग्य सेतु जैसे अन्य आईटी ऐप्लिकेशन के माध्यम से कर सकेंगे। इसके अलावा ऑन-साइट पंजीकरण की सुविधा भी होगी ताकि पात्र लाभार्थी चिन्हित टीकाकरण केंद्रों में जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पॉप स्टार रिहना ने किसानों का किया समर्थन, ट्वीट कर कही ये बात

ऐसे सभी नागरिक जो वृद्ध हैं, या 1 जनवरी 2022 को 60 या उससे अधिक की आयु के होंगे तथा ऐसे नागरिक जो 1 जनवरी 2022, को 45 से 59 वर्ष की आयु के होंगे और निर्दिष्ट 20 बीमारियों में से किसी भी एक बीमारी से पीड़ित हैं, वे पंजीकरण के लिए पात्र हैं।

Related Articles

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.