Loading...
Home ट्रेंडिंग न्यूज राजधानी पटना में जल्द दौड़ेगी मेट्रो, अंतिम रूप देने में जुटी सरकार

राजधानी पटना में जल्द दौड़ेगी मेट्रो, अंतिम रूप देने में जुटी सरकार

बिहार की राजधानी पटना में मेट्रो जल्द दौड़ने को है। इसके लिए राज्य सरकार ने मेट्रो को जमीन पर उतारने की योजना को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। सरकार की योजना के अनुसार पहले चरण में नार्थ-साउथ कॉरिडोर पर मेट्रो चलेगी। जो कि पटना जंक्शन से बैरिया तक होगा तथा दूसरे चरण में सगुना मोड़ से मीठापुर तक का विस्तार विस्तार होगा। मंगलवार को पटना मेट्रो के कॉम्प्रिहेंसिव मोबिलिटी प्लान (सीएमपी) का प्रेजेंटेशन देखने के बाद नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा ने बताया कि पहले चरण में नार्थ-साउथ कॉरिडोर पर काम शुरू किया जाएगा, जो पटना जंक्शन से वाया गांधी मैदान, पीएमसीएच, राजेंद्रनगर होते हुए बैरिया तक जाएगा।

यह भी पढ़ें – कर्नाटक: आज सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार येदयुरप्पा

मंत्री ने यह भी कहा कि कॉम्प्रिहेंसिव मोबिलिटी प्लान वर्ष 2030 को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। सर्वे में पटना के अलावा खगौल, दानापुर और फुलवारी नगर परिषद को शामिल किया गया था। सरकार की योजना पटना के लोगों को बेहतर और सुविधाजनक प्रदूषणरहित यातायात व्यवस्था उपलब्ध कराने की है। 31 मई तक पटना मेट्रो की डीपीआर तैयार हो जाएगी, जिसे मंजूरी के लिए शहरी विकास मंत्रालय को भेजा जाएगा। 31 जुलाई तक केंद्र से इस परियोजना को मंजूरी मिलने की संभावना है।

यह भी पढ़ें – वाराणसी में बड़ा हादसा, निर्माणाधीन पुल का हिस्सा गिरने से कई लोगों की हुई मौत

ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर

ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर में 1A का विस्तार दानापुर से मीठापुर तक होगा, जबकि 1B का विस्तार दीघा घाट से हाईकोर्ट-विकास भवन तक होगा। इस कॉरिडोर की कुल लंबाई 16.9 किलोमीटर होगी। इसमें से 5.29 किलोमीटर एलिवेटेड होगा, जिसपर चार स्टेशन होंगे। भूमिगत कॉरिडोर की लंबाई 11.33 किलोमीटर होगी, जिसपर पर नौ स्टेशन होंगे।

यह भी पढ़ें  – दिल्ली मेट्रो स्टेशन के पास बर्गर खाने से युवक हुआ बीमार, मैनेजर गिरफ्तार

नार्थ-साउथ कॉरिडोर

इस कॉरिडोर को तीन हिस्सों में बांटा गया है। इसमें पहला कॉरिडोर पटना जंक्शन से बैरिया में प्रस्तावित अंतरराज्यीय बस अड्डा तक होगा। दूसरा कॉरिडोर मीठापुर बाइपास से दीदारगंज और तीसरा कॉरिडोर मीठापुर बाइपास से एम्स तक होगा। इस कॉरिडोर की कुल लंबाई 14.02 किलोमीटर होगी. इसमें से 9.625 किलोमीटर एलिवेटेड होंगे, जिसपर नौ स्टेशन होंगे। भूमिगत कॉरिडोर की लंबाई 4.575 किलोमीटर होगी, जिसपर पर तीन स्टेशन होंगे।

 

Trending Videos



Loading...

Related Articles

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.