Home ट्रेंडिंग न्यूज लॉकडाउन: पीएम मोदी ने देश की जनता से मांगे 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखाई देगी एकजुटता

लॉकडाउन: पीएम मोदी ने देश की जनता से मांगे 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखाई देगी एकजुटता

by Mahima Bhatnagar
Modi

नई दिल्ली। लॉकडाउन और कोरोना बस आजकल सुनाई भी यही शब्द दे रहे हैं, और दिखाई भी। न्यूज चैनल हो न्यूज पेपर हो या फिर सोशल मीडिया हर तरफ इसी बात को लेकर चर्चा बनी रहती है। कोरोना ने इस समय देश को पूरी तरह से हिला कर रख दिया है। हर कोई इसी उम्मीद में है कि, कब ये कोरोना का संकट खत्म होगा और रोजाना की तरह दिनचर्या की शुरूआत होगी। इसके कारण देश की अर्थव्यवस्था को भी हर समय नुकसान झेलना पड़ रहा है। लेकिन हमारे देश के लोगों की एकता सबकुछ संभाले हुए है।

इसे भी पढ़ें: क्या होती है कोरोना स्टेज-3

पीएम से लेकर आम जनता तक हर कोई इस मुसीबत का सामना डटकर कर रहा है। पीएम की हर बात का पालन करके। क्योंकि जो भी वो बोले वो देश हित के लिए है। इस बार देश के प्रधानमंत्री ने देश की जनता से 9 मिनट मांगे हैं। 9 मिनट जो देश में नई सामूहिकता को पैदा करेगा।

मन की बात में पीएम मोदी ने कही ये बात

पीएम मोदी ने आज सुबह नौ बजे नौ दिन के लॉकडाउन पर देश की जनता से तीसरी बार मन की बात करी। उन्होंने इस बार देश की जनता से 9 मिनट मांगे हैं। वो 9 मिनट जो आपके मन को शांति देंगे, और फैल रहे वायरस से छुटकारा दिलाने का उपाय। पीएम मोदी ने कहा कि, 5 अप्रैल यानि रविवार के दिन 9 बजे आपको 9 मिनट के लिए अपने घरों की लाइट्स बंद करनी है और अपने घर के गेट पर या बालकनी में दिये, मोमबत्ती, अपने फोन की लाइट जलाकर एक जुट होने का संदेश दें। पीएम ने कहा कि एकजुटता के दमपर ही इस महामारी को मात दी जा सकती है’।

इसे भी पढ़ें: क्या आगे बढ़ेगा 21 दिनों का लॉकडाउन?

Loading...

लॉकडाउन में दिखा देश का अनुशासन: PM मोदी

शुक्रवार सुबह जारी किए गए वीडियो संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरे प्यारे देशवासियों, कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ देशव्यापी लॉकडाउन को आज नौ दिन हो रहे हैं। इस दौरान आप सभी ने जिस प्रकार अनुशासन और सेवा भाव का परिचय दिया। शासन-प्रशासन और जनता-जनार्दन ने इस स्थिति को अच्छे तरीके से संभालने का काम किया है।

पीएम ने कहा कि जिस प्रकार 22 मार्च रविवार के दिन लड़ाई लड़ने वाले हर किसी का धन्यवाद किया, वो भी आज सभी देशों के लिए मिसाल बन गया। आज कई देश इसको दोहरा रहे हैं। जनता कर्फ्यू दुनिया के लिए मिसाल बना, जिससे ये साबित हुआ कि देश एकजुट होकर लड़ाई लड़ सकता है।

इसे भी पढ़ें-कोरोना ने पकड़ी रफ्तार 13 दिन में सामने आए 900 से ज्यादा मामले

‘घर में रुका हर व्यक्ति जंग का भागीदार’

कोरोना के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज जब हर कोई घर में है, तो लोग सोच रहे हैं कि वो अकेले कैसे लड़ाई लड़ेंगे। आपके मन में ये प्रश्न आता होगा कि कितने दिन ऐसे काटने पड़ेंगे। हम अपने घर में जरूर हैं, लेकिन हममें कोई अकेला नहीं है, 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति हर व्यक्ति के साथ है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता ईश्वर का रूप होती है, जब देश इतनी बड़ी लड़ाई लड़ रहा हो तो जनता रूपी महाशक्ति का साक्षात करते रहना चाहिए. जो अंधकार में हैं, उन्हें आशा की ओर ले जाना है। उसे समाप्त करना होगा, इस अंधकार में कोरोना संकट को पराजित करने के लिए हमें प्रकाश के तेज को चारों दिशाओं में फैलाना है।


Loading...

Related Articles

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.