Home अंतरराष्ट्रीय ख़बरें प्रिंस हैरी और मेगन शाही के नए आशियाने में कौन-कौन रहेगा उनके साथ?

प्रिंस हैरी और मेगन शाही के नए आशियाने में कौन-कौन रहेगा उनके साथ?

by Jiya Iman
Prince harry and megan

शाही जीवन जीने की तमन्ना हर इंसान की होती है और एक अच्छा जीवन जीने के लिए लोग काफ़ी कोशिश भी करते हैं लेकिन ऐसे मेंब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के पोते प्रिंसहैरी ने खुद को और अपनी पत्नी मेगनमार्कल को राज परिवार के वरिष्ठ सदस्यता से अलग कर लिया है । उनके इस फैसले से महारानी एलिजाबेथ और उनका परिवार काफी सकतेमें है । इन दोनों ने अपने इस फैसले के ऐलान करने से पहले अपने परिवार के किसी भी सदस्य से विचार-विमर्श भी नहीं किया था । सभी लोग उनके इस फैसले से उदास हैं । लेकिन प्रिंसहैरी आर्थिक रूप से निर्भर होना चाहते हैं और इसके साथ साथ वह अपना समय अपने बच्चेआर्ची के साथ व्यतीत करना चाहते हैं ।

इसे भी पढ़ें: आखिर भारत में कब थमेगा कोरोना का कहर, 112 मामले आए सामने

शाही वरिष्ठता छोड़ने का मतलब

प्रिंसहैरी और मेगनमार्कल कोरॉयलफैमिली की सदस्यता छोड़ने के बाद बहुत सारे ऐसे अधिकार हैं जो उनको अब नहीं मिल पाएंगे जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं :

  • वह अब रॉयल परिवार की उपाधि रॉयलहाइनस और रॉयलहरहाइनस का उपयोग नहीं कर पाएंगे ।
  • वे दोनों अब शाही कोष का प्रयोग भी नहीं कर सकेंगे ।
  • विंडसरकैसल स्थित उनके घर की मरम्मत में लगभग 24 लाख का खर्चा हुआ जिसको यह दोनों दंपति वापस करेंगे।
  • अब वह दोनों किसी दूसरे देश में महारानी एलिजाबेथ के प्रतिनिधि नहीं रहेंगे ।

आगे इन दोनों की क्या योजनाएं हैं-

प्रिंस हैरी अपनी पत्नी मेगनमार्कल और अपने बेटे आर्चीके साथब्रिटेन और उत्तरी अमेरिका में समय बिताएंगे । उन्होंनेअपने एक बयान में कहा था कि इस तरह वह अपने बेटे आर्चीकालालन पालन अच्छे से कर पाएंगे तथा उस पर पूरा ध्यान दे सकेंगे । इसके अलावा वह अपनीचैरिटेबल संस्था को भी लांच करने का भी सोच रहे हैं ।शायरी अपने परिवार को चलाने के लिए जॉब भी कर सकते हैं तथा मेगनमार्कल क्योंकि अभिनेत्री हैं तो वह अभिनय फिर से शुरू कर सकती हैं ।

Loading...

इसे भी पढ़ें: कोरोना का खौफ: दुनिया से कटा भारत, इन देशों के वीजा रद्द

कौन-कौन रहेगा घर में साथ

प्रिंस हैरी और मेगनमार्कल के नए आशियाने में उनके साथ उनका बेटा आर्चीउनके साथ रहेंगे । दरअसल प्रिंसहैरी और मेगनमार्कल एक स्वतंत्र जीवन जीना चाहते थे जहां पर किसी भी तरह की कोई रोक-टोक ना हो । प्रिंसहैरी के रॉयल परिवार से ताल्लुक होने के कारण मीडिया उन पर बहुत नज़र रखता था और वह खुद को स्वतंत्र महसूस नहीं करते थे ।वहअपने शाही जीवन से ऊब गए थे औरएक स्वतंत्र जीवन जीना चाहते थे जैसे कि दूसरे लोगअपना जीवन जीते हैं ।

इसे भी पढ़ें: चीन में इंसान से इंसान में फैलने वाले कोरोना वायरस से दुनिया भर में खौफ


Loading...

Related Articles

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.