एक टक नजर पार्थिव शरीर पर, और दिल से आवाज I LOVE YOU

by Mahima Bhatnagar

नई दिल्ली। ”यू ना लम्हा-लम्हा मेरी याद में, नैना अश्क ना हो”। जी हां मेजर विभूति की पत्नी को देखकर ऐसा लग रहा था कि, वो जितना अपने पति के जाने से दुखी है, उतना ही उनकी शहादत पर गर्व कर रही है। दिल से बस एक आवाज I LOVE YOU, प्यार इतना की लोगों की आंखों से आंसू ना रुके।

इसे भी पढ़ें: सबकी आंखों नम कर अपने आखिरी सफर पर निकले मेजर चित्रेश बिष्ट

उनको आखिरी सलामी देने के लिए भले ही वहां हजारो- सैकड़ों लोग खड़े थे, लेकिन निगाहें बस उनकी पत्नी पर टिकी थी। जो बस एक ही बात बार-बार दोहार रही थी, I LOVE YOU विभू

पार्थिव शरीर को एक टक देखती रही पत्नी

जिसे आप अपने दिल में बसा लेते हैं, उसे इतनी आसानी से दिल से निकालना आसान नहीं होता। चाहे वो आपको छोड़कर किसी के पास जाए, या फिर इस दुनिया से। दोनों समय आपको अपने दिल को पत्थर बनाना पड़ता है। इसी पत्थर दिल के साथ मेजर विभूति की पत्नी अपने पति के पार्थिव शरीर को एक टक देखती रही। दिल रो रहा था, लेकिन आंखों तक आंसू नहीं।

इसे भी पढ़ें: 40 जवानों की शहादत को ना भूलेंगे, ना बख्शेंगे: सीआरपीएफ

Loading...

तीन बहनों के इकलौते भाई थे

डंगवाल रोड निवासी स्व. ओमप्रकाश ढौंडियाल के पुत्र मेजर विभूति कुमार ढौंडियाल सोमवार को पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए थे। वे 55 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात थे। मेजर विभूति 34 वर्ष के थे। अप्रैल 2018 में ही उनका विवाह फरीदाबाद निवासी निकिता कौल से हुआ था। निकिता कश्मीर विस्थापित परिवार से ताल्लुक रखती हैं और दिल्ली में नौकरी करती हैं। मेजर विभूति जनवरी के पहले सप्ताह में अप्रैल में शादी की पहली सालगिरह पर देहरादून आने का वादा कर ड्यूटी पर गए थे।

इसे भी पढ़ें: सिर्फ एक सवाल: पुलवामा आतंकी हमले से हिला हिन्दूस्तान

सोमवार सुबह उनकी शहादत की खबर पत्नी निकिता कौल के फोन पर मिली। निकिता उस समय दिल्ली जा रही थीं। खबर सुनकर किसी तरह उन्होंने मेजर विभूति की मां सरोज ढौंडियाल को फोन पर उनके पैर में गोली लगने और अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी दी। वह दिल की मरीज हैं, इसलिए देर शाम तक भी उन्हें शहादत की खबर नहीं दी गई थी।

शहादत पर मुख्यमंत्री ने जताया दुख

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हुए देहरादून निवासी मेजर विभूति ढौंडियाल की शहादत पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत की आत्मा की शांति एवं दु:ख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुख की इस घड़ी में हम सब शहीद विभूति ढौंडियाल के परिवार के साथ है।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में आत्मघाती आतंकी हमला, 12 जवान शहीद, कई घायल

Trending Videos



Loading...

Related Articles

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.